Blue Whale suicide game: Govt orders Google, Facebook, WhatsApp to remove dangerous online challenge

To guarantee security of individuals on the web, particularly of kids, the Indian government has asked online networking and web mammoths like Facebook, Google, WhatsApp, Instagram among others to dispose of the connections to the ‘Blue Whale’ suicide amusement. Blue Whale, an unsafe test accessible on the web, has apparently …

Unraveling Serendipity

The word serendipity was coined by Horace Walpole in a letter to his friend Sir Horace Mann in the mid 1700’s.  Walpole was impressed by a fairy tale he had read about the adventures of ‘The Three Princes of Serendip’, who ‘were always making discoveries, by bummer and insights, of things which …

ज़िन्दगी में कुछ ऐसा कर दिखाना है

ज़िन्दगी हर कदम पे कुछ नया दिखाती है, कभी  साथ तो कभी तनहा रहना सिखाती है, इस के हर पहलू को हो सके दो दिल से जीना , जिसकी हम कदर नहीं करते, ये उसकी एहमियत बताती है।। जो हमारे सबसे पास है,उसका कोई एहसास नहीं, कदर उसकी तब हुई जब वो …

रंगों भरी दुनिया के रंग ही खो गये।।

ज़िन्दगी हर लम्हा हमें ख़ुशी नहीं देती, हर चमकती हुई चीज रोशनी नहीं देती, रब से तो हमने भी बहुत कुछ माँगा , पर किस्मत ना हो, तो ये जमी भी नहीं देती।। ज़िन्दगी से कुछ माँगा तो वो मन्नत बन गयी, जब उसने खुद सब दिया तो वो जन्नत …

राह जो धरती को फलक से मिलाती हो

आज मैंने ज़िन्दगी को इस पन्ने पे उतारा है, वो सारी चीजें जिससे मैंने इसे संवारा है, बहुत सी चीजें पायीं और बहुत सी खोयीं भी, कुछ के लिए हंसी और कुछ के लिए रोई भी।। ख़ामोश रहके  भी बहुत कुछ कह गयी, बहुतों का सामना किया और काफी कुछ …

ज़िन्दगी का दूसरा नाम है बहता हुआ पानी।।

यहाँ एक छोटी सी कहानी लिखी है मैंने, इस कविता में अपनी जिंदगानी लिखी है मैंने, हर ख़ुशी कैसे दूर हुई मुघसे, सब खुद की ज़ुबानी लिखी है मैंने।। छोटी थी तो किसी बात का गम न था, हसती खेलती दुनिया थी अपनी और कोई सितम न था, सबके साथ …

सोने की चिड़िया लौट के आ जाएगी।।

सब कहते हैं की भारत ऐसा होना चाहिए, कुछ नहीं बस जन्नत जैसा होना चाहिए, अपने सपनो को तो सब ने पूरा किया , और देश के लिए कहा की ज़ेब में पैसा होना चाहिए।। अपने शौक को हम ख़ुशी से पूरा करते हैं, खुद को नहीं देखते और दुसरो …

ई कलजुग है

राम की माला सब जपत है, इन्सान के ना पूछे कोए, अमीर के घर सब जाये हैं, चाहे गरीब खड़ा रोये।। इन्सान न पहचानत इन्सान के, पहचान बस धन पर होए, समय रहत कर्म किये नहीं, तो अब काहे किसमत  को रोये।। आज जमाना उल्टा है, सब नदी में हैं …

बहन के दिल की आवाज़

ख़ुदा का सबसे अनमोल तोहफ़ा बेटी है, जिसकी ज़िन्दगी अभी तक रोते हुए बीती है, हसना जिसकी क़िस्मत में नहीं, रोना ही जिसकी फिदरत बनी।। भाईयों की तकरार में पिस सी जाती है, घर की दीवार में रीस सी जाती है, वो सोचती है ये मुश्किल कैसे सहूँ, कौन से …

माँ तेरा यूँ पलट के आना अच्छा लगता है

माँ तेरा यूँ पलट के आना अच्छा लगता है , डाटने के बाद यूँ हस के मनाना अच्छा लगता है, आज इतनी दूर हो गयी हूँ तुमसे की, तेरा यूँ तस्वीर में भी मुस्कुराना अच्छा लगता है।। साथ में हम कितने खुश रहा करते थे, दूर न हो कभी ये …

अतुल्य भारत को तुल्य रहने दो

इंसानियत इन्सान से दूर क्यों होती है, सबको सुख देने वाली माँ ही क्यों रोती है, कहाँ गये वो झलावे कल के, जब लोग कहा करते थे की सीपी में मोती है।। सीपी में मोती जैसा देश हमारा, हर संस्कृति से घिरा वेश हमारा, फिर भी क्यों दुनिया आज भी …